कनेक्टर्स SCSI
कनेक्टर्स SCSI

Small Computer System Interface


SCSI, एक कंप्यूटर बस एक कंप्यूटर को अंय कंप्यूटर या उपकरणों से कनेक्ट करने के लिए परिभाषित मानक है ।

मानक यांत्रिक, विद्युत और कार्यात्मक बस विनिर्देशों का वर्णन करता है ।


मानक scsi-1, scsi-2 और scsi-3 है ।






उपकरण के लिए भेजा आदेश जटिल हो सकता है
उपकरण के लिए भेजा आदेश जटिल हो सकता है

विशिष्ठताओं


इस बस में दूसरों से अलग है कि यह डिवाइस के लिए ही जटिलता निर्वासित । इस प्रकार, उपकरण के लिए भेजा आदेश जटिल हो सकता है, डिवाइस तो (अंततः) उंहें सरल कार्यों में टूट जाना चाहिए, जो लाभप्रद है अगर हम मल्टीटास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ काम करते हैं ।

इस इंटरफ़ेस तेजी से है, और अधिक सार्वभौमिक और अधिक जटिल अंतरफलक ई मुख्य नुकसान सहित आईडीई है प्रोसेसर है, जो एक बाधा जब डेटा के कई प्रवाह है की एक बड़ा प्रतिशत कब्जा है एक ही समय में खुला ।

स्मार्ट और कम निर्भर केंद्रीय इकाई पर, SCSI इंटरफ़ेस आंतरिक और बाह्य उपकरणों, जैसे हार्ड ड्राइव, स्कैनर, रिकार्डर, बैकअप इकाइयों, आदि का प्रबंधन कर सकते हैं ।








SCSI-2 मानक बस उपकरणों के साथ कंप्यूटर कनेक्ट कर सकते है कि निर्दिष्ट करता है
SCSI-2 मानक बस उपकरणों के साथ कंप्यूटर कनेक्ट कर सकते है कि निर्दिष्ट करता है

प्रभावित डिवाइस


SCSI-2 मानक बस कंप्यूटर जैसे डिवाइस के साथ कनेक्ट कर सकते है कि निर्दिष्ट करता है :

-हार्ड ड्राइव
-फ्लॉपी ड्राइव
-चुंबकीय टेप ड्राइव
-प्रिंटर्स
-(वर्म) ऑप्टिकल डिस्क ड्राइव्स
-ऑप्टिकल डिस्क ड्राइव (CD-ROM)
-स्कैनर
-मध्यम परिवर्तक
-संचार उपकरणों

मानक उपकरणों के साथ एक कंप्यूटर के संबंध के लिए बस के उपयोग को सीमित नहीं है, लेकिन यह कंप्यूटर के बीच इस्तेमाल किया जा सकता है, या कंप्यूटर के बीच बाह्य उपकरणों साझा करने के लिए ।

SCSI-3 मानक अधिक सामांय है । विवरण के लिए तकनीकी समिति पृष्ठ पर भेजा जाएगा ।








SCSI मानकों इनपुट-आउटपुट इंटरफ़ेस के मापदंडों को परिभाषित
SCSI मानकों इनपुट-आउटपुट इंटरफ़ेस के मापदंडों को परिभाषित

SCSI मानक


SCSI मानक इनपुट-आउटपुट इंटरफ़ेस के विद्युत पैरामीटर्स को परिभाषित करते हैं । १९८६ के मानक scsi-1 दिनांक, वह निर्धारित मानक आदेश जो एक बस पर SCSI उपकरणों को नियंत्रित करने के लिए 8 बिट की चौड़ाई के साथ ४.७७ मेगाहर्ट्ज पर घड़ी, उसे 5 एमबी के आदेश की गति की पेशकश करने के लिए अनुमति/

हालांकि इन आदेशों की एक बड़ी संख्या वैकल्पिक थे, इसलिए ९४ में मानक
SCSI-2 को अपनाया गया था । यह 18 आज्ञाओं को परिभाषित करता है सीसीएस (आम कमांड सेट) बुलाया । SCSI-2 मानक के विभिंन संस्करणों को परिभाषित किया गया है :

-वाइड SCSI-2 एक 16 बिट चौड़ाई (8 के बजाय) बस पर आधारित है और हमें 10 एमबी की दर की पेशकश करने के लिए अनुमति देता है/
-fast scsi-2 एक तेज तुल्यकालिक मोड के लिए 5 से 10 mb/s मानक scsi के लिए खर्च करने की अनुमति है, और 10 से 20 mb/s के लिए वाइड scsi-2 (इस अवसर के लिए तेजी से व्यापक scsi-2 नाम);
-फास्ट-20 और ४० फास्ट मोड क्रमशः डबल और उन प्रवाह चौगुनी की अनुमति देते हैं ।

SCSI-3 मानक नए आदेश शामिल हैं, और ३२ उपकरणों की श्रृंखलन के साथ ही ३२० MB/s (अल्ट्रा ३२० मोड) की एक अधिकतम की अनुमति देता है ।

निंन तालिका भिंन SCSI मानकों की विशेषताओं को सारांशित करती है :





मानक बस की चौड़ाई बस गति बैंडविड्थ कनेक्शन
SCSI-1- (Fast-5 SCSI ) 8 बिट्स ४.७७ मेगाहर्ट्ज 5 एमबी/सेकंड ५० पिंस (असममित या अंतर बस)
SCSI-2- Fast-10 SCSI 8 बिट्स 10 मेगाहर्ट्ज 10 एमबी/धारा ५० पिंस (असममित या अंतर बस)
SCSI-2- Wide 16-bit 10 मेगाहर्ट्ज 20 एमबी/धारा ५० पिंस (असममित या अंतर बस)
SCSI-2- Fast Wide ३२ बिट्स 10 मेगाहर्ट्ज ४० एमबी/धारा ६८ पिंस (असममित या अंतर बस)
SCSI-2- Ultra SCSI-2(Fast-20 SCSI) 8 बिट्स 20 मेगाहर्ट्ज 20 एमबी/सेकंड ५० पिन (असममित या अंतर बस)
SCSI-2- Ultra Wide SCSI-2 16-bit 20 मेगाहर्ट्ज ४० एमबी/
SCSI-3- Ultra-2 SCSI(Fast-40 SCSI) 8 बिट्स ४० मेगाहर्ट्ज ४० एमबी/
SCSI-3- Ultra-2 Wide SCSI 16-bit ४० मेगाहर्ट्ज ८० एमबी/धारा ६८ पिंस (अंतर बस)
SCSI-3- Ultra-160(Ultra-3 SCSI या Fast-80 SCSI) 16-bit ८० मेगाहर्ट्ज १६० एमबी/धारा ६८ पिंस (अंतर बस)
SCSI-3- Ultra-320(Ultra-4 SCSI या Fast-160 SCSI) 16-bit ८० मेगाहर्ट्ज DDR ३२० एमबी/धारा ६८ पिंस (अंतर बस)
SCSI-3- Ultra-640 (Ultra-5 SCSI) 16-bit ८० मेगाहर्ट्ज ६४० एमबी/धारा ६८ पिंस (अंतर बस)